आलेख परिचय बोलने की स्वतंत्रता

यह प्रविष्टि पढ़ें

‘टूलकिट’ मामले में पर्यावरण कार्यकर्ता दिशा रवि की गिरफ्तारी की हो रही है व्यापक आलोचना

जीवी एडवोकेसी  17 फरवरी 2021

एक लेखक ने कहा, "किसानों के समर्थन में गूगल डॉक्स का संपादन अब इस देश में राजद्रोह है।"

यह प्रविष्टि पढ़ें

वेनेज़ुएला के डिजिटल पत्रकार लुईस कार्लोस डियाज़ गुमशुदा हो गए हैं

जीवी एडवोकेसी  14 मार्च 2019

वेनेज़ुएला में 'प्रतिपक्ष की पत्रकारिता' से ताल्लुक रखने वाले चेहरों में लुईस कार्लोस एक स्थापित चेहरा है.

यह प्रविष्टि पढ़ें

नेटिजेन रिपोर्ट: क्या भारत में क्षेत्रीय इंटरनेट पाबंदियों का सिलसिला कभी थमेगा?

जीवी एडवोकेसी  27 फरवरी 2019

भारत में इंटरनेट सेवाओं पर प्रतिबंध, वेनेज़ुएला में विपक्षी दलों की वेबसाइटों के साथ छेड़-छाड़ तथा यूगांडा में सोशल मीडिया कर की वजह से इंटरनेट उपभोक्ताओं की संख्या में गिरावट.

यह प्रविष्टि पढ़ें

गैरकानूनी गिरफ्तारी व पुस्तकों की जब्ती के लिए मलेशियाई राजनीतिक कार्टूनिस्ट ज़ुनार ने पुलिस पर मुकदमा ठोका

जीवी एडवोकेसी  19 अगस्त 2017

"आप मेरी कार्टून पर प्रतिबंध लगा सकते हैं, पर मेरे दिमाग पर प्रतिबंध नहीं लगा सकते हैं। मैं स्याही की आखिरी बूंद तक चित्र बनाता रहूंगा।"

यह प्रविष्टि पढ़ें

वियतनाम सरकार की खिलाफत करने वाली कार्यकर्ता को 9 साल की सजा

जीवी एडवोकेसी  29 जुलाई 2017

40 वर्षीय नेगा, जिसे उनके कलम नाम "थू नेगा" से भी जाना जाता है, प्रवासियों और भूमि अधिकार के लिए मुखर प्रतिनिधी रही हैं।

यह प्रविष्टि पढ़ें

नेटिज़ेन रपट: सेंसरशिप – भारत में बढ़त, कैमरून में घटत

अंग्रेजी भाषी कैमरून में इंटरनेट की वापसी पर कश्मीर में सोशल मीडिया पर लगी पाबंदी। मालदीवी पत्रकारों ने ब्लॉगर की हत्या पर किया व्यक्त शोक।

यह प्रविष्टि पढ़ें

सउदी अरब ने फिलिस्तिनी कवि को “नास्तिकता और लम्बे बालों” के कारण जेल में बंद किया

मोना करीम की रपट : फिलस्तीन के कवि अशरफ फयध नास्तिकता फैलाने और लम्बे बाल रखने के कारण सउदी जेल में हैं।

मिस्र : गूगल ब्लॉगर ने नवारा के ब्लॉग को प्रतिबंधित किया

प्रतीत होता है कि आम जनता के ब्लॉगों पर प्रतिबंध लगाना सिर्फ तीसरी दुनिया के सरकारों की ही बपौती नहीं रह गई है. गूगल का ब्लॉगस्पॉट भी इस बैंडबाजे में शामिल हो गया लगता है, और वो भी धूमधड़ाके से. गूगल ब्लॉगस्पॉट ने नवारा नेगम के ब्लॉग (तहयीज [अर.]), पर बिना कारण बताए प्रतिबंध लगा दिया. अहमद शोकीर इस बारे में विस्तार से लिखते हैं.

भारत : चिट्ठा चोरी के बाद धमकी, धौंसपट्टी और सीनाजोरी

जाल जगत् में चिट्ठाकार एक तरह से असुरक्षित ही बने रहते हैं. अनाम या छद्म नामधारी होने के बावजूद मिलने वाली धमकियाँ ये सिद्ध करती हैं कि कोई चिट्ठा कितना महत्वपूर्ण हो सकता है. इंजी पेन्नु तथा केरल्स.कॉम के प्रकरण ने चिट्ठासंसार में तूफ़ान सा मचा दिया है. केरल तथा...

चीन: राष्ट्रीय प्रक्षोभ

  5 जून 2008

चिट्ठाकार टूकोल्ड कहते हैं (चीनी भाषाई पोस्ट) कि चीनी लोगों को विदेशी मीडिया व विदेशियों की टिप्पणीयों से इतनी आसानी से उत्तेजित नहीं हो जाना चाहिये। उनका इशारा अदाकारा शेरोन स्टोन के चीन में आये हालिया भूकंप को तिब्बत समस्या से जोड़ कर दिये वक्तव्य की और था। चिट्ठाकार ने...

पाईये दुनिया भर से रोचक कहानियाँ सीधे अपने इनबॉक्स में

* = required field
शुक्रिया! पर फ़िलहाल नहीं।