आलेख परिचय खाना

यह प्रविष्टि पढ़ें

बांग्लादेशी शादियों में सांस्कृतिक बदलाव के चलते बदल रहा है खानपान

  5 फरवरी 2018

यद्यपि बांग्लादेशी विवाहों में परोसे जाने वाले व्यंजनों में बदलाव शुरू हो गया है, एक बात फिर भी कायम है - ये स्वादिष्ट होते हैं।

यह प्रविष्टि पढ़ें

जापान के प्लास्टिक फूड मॉडल सिर्फ रेस्तरां तक सीमित नहीं

अब ये खाद्य नमूने विभिन्न प्रकार के भड़कीले कलेक्टिबल्स के रूप में उपलब्ध हैं, जैसे कि रेफ्रिजरेटर मैग्नेट या स्मार्टफोन स्टैंड।

हैती मे भूख

  13 अक्टूबर 2013

क्यों – जब 1995 और 2010 के भूकंप के दौरान कम से कम एक अरब अमेरिकी डॉलर की खाद्य सहायता देश को मिली है – भूखमरी बढ़ रही है? हैती ग्रासरूट्स वाच “शिकायतों, दुरूपयोग की अफवाहों, दुरूपयोग या खाद्य सहायता के नकारात्मक प्रभावों के बारे मे” जाँच करते हैं।

यह प्रविष्टि पढ़ें

जापान : ‘खाद्यान्न संकट पर प्रीतिभोज’ और ‘स्काइप पर जी8′

  11 जुलाई 2008

टोकियो, होक्काइदो में त्रिदिवसीय जी8 सम्मेलन [जा.] 9 जुलाई को सम्पन्न हो गया. कई चिट्ठाकारों के अनुसार, यह सम्मेलन एक तरह से उनके मुँह का स्वाद कड़वा कर गया. इस सम्मेलन के प्रबंधन व सुरक्षा के लिए जितना खर्च किया गया उतनी रकम से लाखों एड्स पीड़ित मरीजों की चिकित्सा...

यह प्रविष्टि पढ़ें

डोमिनिकन रिपब्लिक : स्कूली बच्चों को दिए जा रहे दूध पर प्रश्नचिह्न

फोटो – गिले पदिल्ला द्वारा, क्रियेटिव कॉमन्स लाइसेंस के तहत प्रयोग में लिया गया भले ही यह अप्रासंगिक सा प्रतीत होता हो, लेकिन डोमिनिकन रिपब्लिक में दुग्ध घोटाला कांड चहुँओर चर्चा में है. चिट्ठों में लिखा गया कि दूध की जगह स्कूली बच्चों को शक्कर पानी दिया जा रहा है....

भारतः आम्र महोत्सव

कुक्स कॉटेज ने छापे हैं बाल गंधर्व, पुणे में संपन्न आम्र महोत्सव के चित्र। यदि आम की अलग अलग किस्मों की पहचान करना सीखना चाहते हैं तो यह प्रविष्टि ज़रूर पढ़ें।

यह प्रविष्टि पढ़ें

जापानः सारा मक्खन गायब

  25 अप्रैल 2008

जापान में हर जगह दुग्ध उत्पाद खोजते उपभोक्ता बस यही आर्तनाद कर रहे हैं, “कहाँ गया मक्खन?”। दूध के उत्पादन में भारी कमी और उसके साथ बीज का दामों में दुग्ध उत्पादों की अंतर्राष्ट्रीय खपत में बदलावों के कारण जापान में मक्खन की भारी कमी हो गई है। किराने की...

रूस: मदिरा में लिप्त

विंडो आन यूरेशिया के मुताबिक रूसी विश्व स्वास्थ्य संस्था द्वारा खतरनाक घोषित सीमा से तीन गुना ज्यादा शराब पीते हैं और अमरीकियों की तुलना में आठ गुना ज़्यादा।

यह प्रविष्टि पढ़ें

उत्सव, दावत और मुस्कुराहटों का दान

  16 अक्टूबर 2007

बीते शनिवार को तमाम विश्व के मुसलमानों ने रमजान की समाप्ति पर ईद-उल-फित्र का त्यौहार मनाया. चेन्नई के चिट्ठाकार अबुल कलाम अपना अनुभव बांट रहे हैं. उनके उत्साहित बच्चे अपने दोस्तों व पड़ोसियों को मिठाइयाँ बांट रहे हैं. उनकी सबसे छोटी पुत्री अपने गैर-मुसलिम दोस्तों की सहायता से रमजान के बारे में एक विस्तृत प्रोजेक्ट तैयार कर रही है. आजाद सोच रहे हैं कि किसी दिन उनकी बेटी जरूर ही अपने दोस्तों के साथ मिल कर इसी तरह के प्रोजेक्ट, दीपावली पर काम करेगी.

पाईये दुनिया भर से रोचक कहानियाँ सीधे अपने इनबॉक्स में

* = required field
शुक्रिया! पर फ़िलहाल नहीं।