ऊपर लिखीं भाषाओं के नाम देख रहे हैं ? हम ग्लोबल वॉइसेस के आलेखों का अनुवाद कर विश्व की सिटिज़न मीडिआ को सब तक पहुंचाते हैं।

वेनेज़ुएला के डिजिटल पत्रकार लुईस कार्लोस डियाज़ गुमशुदा हो गए हैं

“लुईस कार्लोस कहाँ हैं?” ऑनलाइन सार्वजनिक अभियान के लिए प्रोवेया द्वारा प्रयोग में लाया गया एक चित्र. छवि में वह समय सूचित किया गया है जब आखिरी बार उन्होंने ट्वीट किया था और जब वह किसी से संपर्क में थे.

11 मार्च की शाम, राजनीतिक विश्लेषक तथा वेनेज़ुएला के पत्रकार तथा मीडिया कार्यकर्ता,  लुईस कार्लोस डियाज़ की पत्नी, नाकि सोतो ने ट्वीट कर यह घोषणा की कि कार्लोस पिछले पांच घंटे से लापता हैं.

(ताजा खबर) प्रेस कर्मियों के संगठन (स्पेन में एसएनटीपि) ने यह सूचना दी है कि लुईस कार्लोस को बोलिवारिया के ख़ुफ़िया बलों ने हिरासत में लिया है.

अत्यावश्यक- एक सेबिन आयोग ने इस बात की पुष्टि की है कि उनके पुलिस विभाग ने लुईस कार्लोस डियाज़ को हिरासत में लिया है. उन्होंने प्रेस संगठन के सदस्य तथा पत्रकार, मार्को रिज़, लूज़ मेली रेयेस तथा फेडेरिको ब्लैक की तरफ अपने हथियार तान कर उग्रता का प्रदर्शन भी किया.

इसके कुछ घंटे पहले, सोतो ने ट्वीट किया था कि लुईस कार्लोस डियाज़ पिछले पांच घंटों से गायब हैं.

मैं सभी को यह सूचित करना चाहती हूँ कि दोपहर 5:30 के बाद से लुईस कार्लोस के साथ मेरा कोई संपर्क नहीं हुआ है. रात के 10 से ले कर अगली सुबह के 5.00 बजे तक उसका यूनियनरेडियो नेट पर एक विशेष कार्यक्रम होने वाला था, जिसके लिहाज से वह कुछ देर के लिए आराम करने करने घर आने वाला था.

शाम 5:30 में लुईस कार्लोस अपने बाइक पर थे लेकिन उसके बाद से मेरी उनसे कोई संपर्क नहीं है और :

- वह घर पर नहीं हैं

- उन्होंने कोई ट्वीट नहीं किया है

- वह फ़ोन नहीं उठा रहे हैं

- वह किसी एसएमएस या व्हाट्सएप्प का जवाब नहीं दे रहे हैं

(ताजा स्थिति) डियाज़ और सोतो के घर की पड़ताल करती सेबिन की टीम का ताजा विवरण दे रहीं हैं लूज़ मेली रेयेस. इस घटना को एसएनटीपि ने भी रिपोर्ट किया है.

अत्यावश्यक: सुबह के 3:30 बजे, इस वक़्त ख़ुफ़िया बलों का एक आयोग पत्रकार तथा मानवाधिकार कार्यकर्ता लुईस कार्लोस डियाज़ के घर पहुँच चुका है, जो शाम 5:30 से गुमशुदा हैं.

अन्य मानवाधिकार तथा अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता से जुड़े संगठनों ने भी (लुईस कार्लोस कहाँ हैं) अभियान को अपना समर्थन दिया है. वेनेज़ुएला के ट्विटर पर यह मुद्दा फिलहाल जोर पकड़ चुका है. #DondeEstaLuisCarlos

डियाज़ एक जानेमाने पत्रकार, मानवाधिकार कार्यकर्ता तथा अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के पैरोकार हैं. वेनेज़ुएला तथा बाहर की दुनिया उन्हें निकोलस मदुरो की सरकार की आलोचना तथा उस से जुडी राजनैतिक विश्लेषण के लिए जानती है. वह पिछले काफी समय से सोतो के साथ मिलकर वेब तथा रेडियो के लिए वेनेज़ुएला से जुड़े राजनैतिक और मानवाधिकार संबंधी विडियो और ऑडियो कार्यक्रम बनाते रहे हैं. उन्होंने स्वतंत्र मीडिया और नागरिकों की सहभागिता वाले मीडिया के समर्थन और इस विषय पर जागरूकता के लिए भी काफी काम किया है. डियाज़ पिछले एक दशक से भी ज्यादा समय से ग्लोबल वॉइसेस समुदाय का हिस्सा रहें हैं.

मेरे लिए वेनेज़ुएला की इस कुव्यवस्था में कार्लोस सूचना तथा सूचनातंत्र से जुड़े एक जानकार व्यक्ति रहे हैं. उन्होंने अपनी क्षमता से समाज में आपसी संवाद के लिए सांस्कृतिक तथा आलोचना के लिए जगह बनायी है.

गुमशुदा होने से कुछ ही दिन पहले, राज्य द्वारा संरक्षित कार्यक्रम, कॉन एल मजो डाँडो ने डियाज़ द्वारा प्रसारित कार्यक्रम के एक हालिया विडियो दिखाया था. इस कार्यक्रम के मेजबान, राजनीतिज्ञ ड़ोसदाद काबेलो ने अपनी पेशकश में यह स्थापित करने की कोशिश की थी कि 7 और 8 मार्च को 24 घंटे से भी ज्यादा जो अँधेरा पूरे वेनेज़ुएला को विद्दयुत आपूर्ति की कमी से झेलना पड़ा था, उसकी वजह डियाज़ हैं.

इस सोच के पीछे कोई साक्ष्य नहीं है.

शाम 5:30 से पत्रकार लुईस कार्लोस डियाज़ लापता हैं. उन पर ‘कॉन एल मजो डाँडो’ के ट्विटर अकाउंट से यह आरोप लगाया गया था कि वह अपनी योजनाओं की पूर्ती ‘फ़ासिस्ट तरीकों’ से करते हैं.

हमारे मित्र लुईस कार्लोस को वेनेज़ुएला में उचित सवाल उठाने वाले पत्रकारों में से एक के तौर पर जाना जाता है. कुछ दिन पहले ड़ोसदाद ने अपने कार्यक्रम में उन पर ‘अमरीकी मदद’ से पूरे वेनेज़ुएला में विद्दयुत आपूर्ति रोकने की षड्यंत्रकारी मंशा जाहिर की थी.

अभी तक इस संबंध में कोई ठोस सूचना नहीं मिली है. अब एसएनटीपि भी इस अभियान का हिस्सा बन गया है जिसकी शुरुआत सेबिन के मुख्य कार्यालय से पूछताछ से शुरू हुई थी :

लुईस कार्लोस डियाज़ को लापता हुए साथ घंटे गुजर चुके हैं. वह यूनियन रेडियो नोतिसिअस से जुड़े पत्रकार तथा मानवाधिकार कार्यकर्ता हैं. हम अभी सेबिन के मुख्य कार्यालय पर हैं लेकिन वहां डियाज़ के हिरासत की जवाबदेही को खारिज किया जा रहा है.

(तजा स्थिति: अब उन्होंने मान लिया है कि डियाज़ उनकी हिरासत में हैं)

पत्रकार व्लादिमीर विलेगास ने इस हिरासत के लिए सरकारी बलों की निंदा की है:

हमें यह खबर मिली है कि यूनियन रेडियो नेट के पत्रकार लुईस कार्लोस डियाज़ को सरकारी बलों ने हिरासत में ले लिया है. हम उनकी कुशलता की कामना करते हैं. हम उनसे जुडी सूचना तथा उनके मानवाधिकार की सुरक्षा की मांग करते हैं.

ग्लोबल वॉइसेस समुदाय इस घड़ी में लुईस कार्लोस, उनके परिवार तथा उन तमाम स्वतंत्र पत्रकारों के साथ है जो अपने सवालों से वेनेज़ुएला की सरकार की जवाबदेही तय कर रहें हैं. हम आशा करते हैं कि वह सुरक्षित होंगे तथा उनके सकुशल लौटने की कामना करते हैं. इस विषय पर प्राप्त सूचनाओं के अनुसार हम इस से जुडी स्थिति की जानकारी आपको देते रहेंगे.

बातचीत शुरू करें

लेखक, कृपया सत्रारंभ »

निर्देश

  • कृपया दूसरों का सम्मान करें. द्वेषपूर्ण, अश्लील व व्यक्तिगत आघात करने वाली टिप्पणियाँ स्वीकार्य नहीं हैं।.

पाईये दुनिया भर से रोचक कहानियाँ सीधे अपने इनबॉक्स में

* = required field
शुक्रिया! पर फ़िलहाल नहीं।