आलेख परिचय संस्कृति

किर्गिस्तान की हिट फिल्म एक मां और बेटे के बीच के रिश्ते की मार्मिक कहानी है

निर्देशक रुस्लान अकुन के मुताबिक, फिल्म का मुख्य लक्ष्य लोगों को एक-दूसरे के प्रति दयालु होने और अच्छे काम करने के लिए प्रोत्साहित करना है।

मंगोलिया में खानाबदोशों के लिए, घुमक्कड़ी है एक पावन अधिकार

मंगोल कहते हैं कि आज़ादी उनके खून में है। मंगोलिया का संविधान नागरिकों को कहीं भी रहने का अधिकार प्रदान करता है।

कविता बनी मरहम: हांगकांग में प्रवासी मजदूरों की ज़िंदगी, प्यार और त्याग की कहानी

  10 मार्च 2024

"इंगाट" नामक किताब में दर्जनों ऐसे घरेलू कामगारों की कृतियों को दर्शाया गया है, जो परिवार, कठिनाई, प्रेम व बलिदान की कहानियां बताती हैं।

पहले बांग्ला कॉमिक-स्ट्रिप सुपरहीरो के जनक नारायण देबनाथ का प्रथम पुण्यतिथी पर स्मरण

  18 जनवरी 2023

18 जनवरी, 2022 को, भारतीय कॉमिक निर्माता और चित्रकार नारायण देबनाथ का कोलकाता में 96 वर्ष की आयु में निधन हो गया था। आज पहली पुण्यतिथि पर स्मरण।

लातिनी अमेरिका की इन खुशनुमा परंपराओं के साथ नए साल का स्वागत करें

  8 जनवरी 2023

जानें पुराने साल को अलविदा कहने, जीवन का नया अध्याय शुरु करने हेतु लातिनी अमेरिका के कुछ मज़ेदार, अजीब व साहसिक रीति-रिवाजों के बारे में।

कलाकार की कल्पना की उड़ान से बांग्लादेश पहुंचे टिनटिन

  25 जुलाई 2021

एक बांग्लादेशी कार्टूनिस्ट फैन आर्ट "बांग्लादेश में टिनटिन" द्वारा "द एडवेंचर्स ऑफ टिनटिन" की पुरानी यादें ताजा कर रहे हैं, पर एक ट्विस्ट के साथ।

लॉकडाउन में फंसे रूसी, इंटरनेट पर (पुनः)निर्मित कर रहे हैं प्रसिद्ध कलाकृतियां

रूस में Izoizolyatsiya फोटोचैलेंज एक जुनून बन गया है। लोग घरेलू चीजों से प्रसिद्ध कलाकृतियों को फिर बना रहे हैं, मज़ेदार व विचित्र तरीकों से।

कोविड-19 लॉकडाउन के दौरान पक्षियों की वापसी बनी वन्यजीव फोटोग्राफरों के लिए वरदान

तालाबंदी के सप्ताह ने प्रदूषण व मानवीय हस्तक्षेप में कमी के कारण पक्षियों के लिए अनुकूल वातावरण तैयार कर दिया है।