ऊपर लिखीं भाषाओं के नाम देख रहे हैं ? हम ग्लोबल वॉइसेस के आलेखों का अनुवाद कर विश्व की सिटिज़न मीडिआ को सब तक पहुंचाते हैं।

भारतीय टेकी पता लगाते हैं नकली व्हाट्सएप और फेसबुक संदेशों का

पंजाब, भारत में मोज़िला एल10 एन हैकाथॉन; छाया: शुभाशीष पानिग्रही, विकीमीडिया के माध्यम से (CC BY-SA 4.0)

दो भारतीय कंप्यूटर प्रोग्रामर एक ऐसी वेबसाइट का निर्माण कर रहे हैं जो व्हाट्सएप और फेसबुक पर व्यापक रूप से साझा किए गए नकली संदेशों को खोजने में मदद करता है। चेक4स्पैम डॉट कॉम नामक यह साइट स्वयंसेवक उपयोगकर्ताओं के साथ उनकी स्वयं की टीम के अनुसंधान और जांच पर निर्भर करती है।

उनका समूह कुछ सेवाएं प्रदान करने के लिए पोर्टल की क्षमताओं का विस्तार तकनीकी उपकरणों के माध्यम से करने की उम्मीद करता है। वे परियोजना का वर्णन निम्नानुसार करते हैं:

We verify any known posts with the below actions:

  1. Contact the person/organization mentioned in the post
  2. Do an extensive search (online and offline) to find any further fine information about the news

- How We Work, check4spam.com

हम किसी भी ज्ञात लेखों की पुष्टि इस करते हैं:

  1. पोस्ट में उल्लेखित व्यक्ति / संगठन से संपर्क करें
  2. समाचार के बारे में और अधिक अच्छी जानकारी ढूंढने के लिए व्यापक ऑनलाइन और ऑफलाइन खोज करें

- हम कैसे का करते हैं , check4spam.com

(स्पैम) विश्व 2017 में शीर्ष 10 भ्रष्ट राजनीतिक दल: बीबीसी

भारत में इंटरनेट उपयोग तेजी से बढ़ रहा है, यहां तक ​​कि बुजुर्गों के बीच भी। कई नए उपयोगकर्ताओं को अभी तक पता नहीं है कि प्रामाणिक और नकली या दुर्भावनापूर्ण स्रोतों के बीच अंतर कैसे करना है। और उपयोगकर्ता के डिवाइस से जानकारी चोरी करने के लिए क्लिकबेट या ट्रोजन हॉर्स-नुमा सॉफ़्टवेयर के खतरे हैं।

बाल कृष्ण बिड़ला और शम्मास ओलियथ, जिन्होंने यह वेबसाइट बनाई, भारतीय शहर बेंगलुरु में रहने वाले अनुभवी तकनीशियन हैं। “मानवता के लिए बिना शर्त सेवा” और “आम आदमी के लिए जीवन को आसान बनाने और स्पैमर्स के लिए जीवन परेशानी भरा बनाने” की एक दृष्टि के साथ, उन्होंने भारत में लोगों को शिक्षित करने के बीड़ा उठाया है जो कि सोशल मीडिया में जारी नकली सन्देशों के शिकार हो जाते हैं।

एक अदद प्रमाणीकरण; छवि चेक 4 स्पैम वेबसाइट के माध्यम से।

अगस्त 2016 में उन्होंने एक व्हाट्सएप नंबर स्थापित किया जहाँ लोग तथ्य-जांच के लिए उन्हें संदेश भेज सकते हैं। शम्म्स के अनुसार, उन्हें सत्यापन के लिए दिन में लगभग 100 संदेश प्राप्त होते हैं। वे अपने घंटे भर के लंच ब्रेक के दौरान संदेशों को पढ़ते हैं और फिर उन पर शोध शुरू कर देते हैं।

Check4Spam एक स्व-वित्त पोषित परियोजना है, उन्हें साइट पर विज्ञापन से कुछ राजस्व प्राप्त होता है जो कि फेसबुक पर प्रोमोशनल पोस्ट्स सहित इसके संचालन लागतों में जाता है।

1. अपने फ़ोन पर +9035067726 जोड़ें
2. संदेहास्पद सामग्री की प्रतिलिपि बनाएं
3. यह सन्देश उन्हें व्हाट्सएप्प पर भेज दें। वे आपको बताएंगे कि क्या यह नकली है या नहीं।

Check4spam वर्तमान में उन संदेशों को ही जांचता है जिनमें पाठ, छवि या दोनों होते हैं। क्राउड सोर्सिंग के तहत वे लोगों को स्पैम संदेशों को रिपोर्ट करने के लिए भी प्रोत्साहित करते हैं वर्तमान में ज्ञात संदेशों को इंटरनेट अफवाहों, दुर्घटनाओं, नौकरियों, चिकित्सा, गुमशुदा, सरकारी पहल और विज्ञापन के अंतर्गत वर्गीकृत किया जाता है।

साइट को एक महीने में ५ लाख पेज व्यूज मिलते हैं।

बातचीत शुरू करें

लेखक, कृपया सत्रारंभ »

निर्देश

  • कृपया दूसरों का सम्मान करें. द्वेषपूर्ण, अश्लील व व्यक्तिगत आघात करने वाली टिप्पणियाँ स्वीकार्य नहीं हैं।.