ऊपर लिखीं भाषाओं के नाम देख रहे हैं ? हम ग्लोबल वॉइसेस के आलेखों का अनुवाद कर विश्व की सिटिज़न मीडिआ को सब तक पहुंचाते हैं।

ओमान: एक ही दिन हो रमज़ान

ओमानी चिट्ठाकार स्लीपलेस उम्मीद जता रहे हैं कि सभी इस्लामी देश रमज़ान की शुरुवात एक ही दिन करना तय करेंगे। वे लिखते हैं “उम्मीद की जाय कि इस बार हम पूरे अरब व इस्लामी विश्व में एक ही दिन पर रज़ामंद होंगे बजाय इसके कि बेवकूफ बनें और फिर कहें कि हमें तो चाँद दिखा ही नहीं।”

बातचीत शुरू करें

लेखक, कृपया सत्रारंभ »

निर्देश

  • कृपया दूसरों का सम्मान करें. द्वेषपूर्ण, अश्लील व व्यक्तिगत आघात करने वाली टिप्पणियाँ स्वीकार्य नहीं हैं।.

पाईये दुनिया भर से रोचक कहानियाँ सीधे अपने इनबॉक्स में

* = required field
शुक्रिया! पर फ़िलहाल नहीं।