Debashish Chakrabarty · अगस्त, 2007

Debashish is a Software Professional based at Pune, India। He had been blogging in English and Hindi since 2002। He founded India's first (and only) desi blog awards Indibloggies and the first Hindi blog aggregator Chittha Vishwa, Hindi webzine Nirantar and dabbles Hindi Podcast Podbharti. Debashish has also been a DMOZ editor and contributed towards localization of software such as WordPress, Gregarious, Pebble, IndicJoomla, IJoomla, Scuttle, Snap Shots, Blog Bar, among others. He has also been instrumental in beginning initiatives like Buno Kahani, a group blog where various authors literally weave a story and Anugunj – a web event hosted in turn by Hindi bloggers – where various bloggers write on a given topic. He also regularly contributes to the Hindi Wikipedia and the Hindi Lingua project of Global Voices. [More details]

ईमेल पता Debashish Chakrabarty

नवीनतम लेख Debashish Chakrabarty से अगस्त, 2007

एड्स के रोगी जिंदा दफ़्न

इस्राईल से स्मूदस्टोन एक रपट के बारे में बता रहे हैं जिसमें बताया गया है कि संक्रमण के डर से पापा न्यू गिनी में एड्स संक्रमितों को जीवित दफनाया गया।

फिलिस्तीन: तुर्की में इक गुल

फिलिस्तीनी चिट्ठे कबाबफेस्ट के फय्याद तुर्की कें नवनिर्वाचित राष्ट्रपति अब्दुल्ला गुल के बारे में लिखते हैं, “विडंबना है कि तुर्की में कुछ धर्मनिरपेक्ष चरमपंथियों को भी गुल की बेगम हैरुन्निसा का हिजाब, जिस पर तुर्की के सभी सार्वजनिक संस्थानों में पाबंदी है, पहनना नागवार गुज़र रहा है, खासतौर पर जब...

रूस: रेस्तरां करायें बदनामियाँ

कॉपीड्यूड रूस में व्याप्त ऐसे अनेक तरीकों का ज़िक्र कर रहे हैं जिनके द्वारा रेस्तरां मालिक विदेशियों के साथ बदसलूकी करते हैं। वे लिखते हैं कि इन्हें कुछ भी अंदाज़ा नहीं कि बदनामी से उनका क्या नुकसान हो सकता है, “ग्राहक सेवा शोध के अनुसार एक असंतुष्ट ग्राहक कम से...

ओमान: एक ही दिन हो रमज़ान

ओमानी चिट्ठाकार स्लीपलेस उम्मीद जता रहे हैं कि सभी इस्लामी देश रमज़ान की शुरुवात एक ही दिन करना तय करेंगे। वे लिखते हैं “उम्मीद की जाय कि इस बार हम पूरे अरब व इस्लामी विश्व में एक ही दिन पर रज़ामंद होंगे बजाय इसके कि बेवकूफ बनें और फिर कहें...

मिस्र : क्या मुबारक की मौत हो चुकी है?

“मुझे देर रात एक मित्र का फोन आया, ‘क्या होस्नी मुबारक* मर चुके हैं?’, उसने पूछा। मुझे नहीं पता कि उसे ये खबर कहाँ से मिली पर ये अफवाह गर्म है कि होस्नी उर्फ द ग्रेट डिक्टेटर को वायुयान द्वारा जर्मनी के एक अस्पताल में ले जाया गया और उनके...

इरान: टीवी के लोकप्रिय कार्यक्रम

फर्नाम बिद्गोली इरानी टेलीविज़न के कुछ लोकप्रिय कार्यक्रमों के बारे में बता रहे हैं और ये भी कि वे लोकप्रिय क्यों हैं। कुछ विडियो अंश भी हैं।

रोमानियाई एस्क्वेर

अगले सप्ताह एस्क्वेर पत्रिका का रोमानियाई संस्करण जारी होने जा रहा है। आउलस्पॉटिंग लिखते हैं, “एस्क्वेर रोमानिया के पत्रिका बाज़ार में एक नवीन उत्पाद है और दीर्घ आकार के लेखों व गल्पशैली की पत्रकारिता पेश करने वाला पहला माध्यम होगा। रोमानिया में ऐसी शैलियाँ लगभग नदारद हैं।”

यूनान में दावानल

  27 अगस्त 2007

आपने संभवतः ये खबर सुन ली होगीः यूनान (ग्रीस) जल रहा है। आज दावानल प्राचीन नगर ओलंपिया तक जा पहुंचा जो ओलम्पिक्स की जन्मभूमी है। साथ ही यहाँ यूनान की प्राचीन पुरातात्विक संग्रहों को समेटे ओलंपिया संग्रहालय भी है। एथेंस लपटों में (फ्लिकर प्रयोक्ता का चित्र)  एथेंस की बाहरी सीमाओं...

इरान: फॉक्स अटैक्स

रॉबर्ट ग्रीनवॉल्ड निर्मित लघुचित्र “फॉक्स अटैक्सः इरान” में फॉक्स टीवी स्टेशन के प्रसारण से सबूत पेश किये गये हैं, जिनमें इराक युद्ध के पहले की उनकी रिपोर्टिंग की इरान से संबंधित उनकी वर्तमान रिपोर्टिंग से तुलना की गई है।

जमैका: तूफानी डीन के बाद

  24 अगस्त 2007

जमैका में डीन नामक अंधड़ से बचने के बाद सिटीगर्ल लिखती हैं, “दरअसल बड़ी नाइंसाफी लगती है बिजली के 4 दिनों के कष्टकर इंतज़ार के बारे में शिकायत करना सिर्फ इसलिये कि मुझे टीवी देखना और अंतर्जाल सर्फिंग करनी है। आखिरकार, ऐसे लोग भी हैं जो इस तूफान से किसी...

Debashish Chakrabarty का पन्ना

विज्ञान, तकनलाजी, इंटरनेट, सिनेमा, राजनीति व सामाजिक आर्थिक विषयों पर केंद्रित हिन्दी वेबपत्रिका सामयिकी पढ़ें और हिन्दी पॉडकास्ट सुनें पॉडभारती पर।


पाईये दुनिया भर से रोचक कहानियाँ सीधे अपने इनबॉक्स में

* = required field
शुक्रिया! पर फ़िलहाल नहीं।