अगस्त, 2007

आलेख से अगस्त, 2007

बंगाली चिट्ठे : चहुँओर तसलीमा

  22 अगस्त 2007

बांग्लादेश की निर्वासित, तेजतर्रार लेखिका, तसलीमा नसरीन के ऊपर एमआईएम (मजलिस – ए – इत्तेहादुल – मुसलिमीन) के कार्यकर्ताओं ने हैदराबाद, भारत के एक प्रेस क्लब में हो रहे एक कार्यक्रम के दौरान हमला किया. एमआईएम का दावा था कि लेखिका ने पुस्तक विमोचन समारोह के दौरान इस्लाम के विरुद्ध...

ग्लोबल वॉयसेज़ शोः अंक 5

  21 अगस्त 2007

आखिरकार, ग्लोबल वॉयसेज़ का पाँचवा अंक आ ही गया! इस अंक में हम प्रस्तुत कर रहे हैं निम्नलिखित पॉडकास्ट से झलकियाँ: * मालदीव से गेस्ट्रोनॉमिक्स * भारत से पॉडमस्ती * केन्या से जंप रेडियो * सउदी अरब से मिडईस्ट यूथ * हंगरी से बुडाकास्ट * ज़िंबाबवे से अफ़्रीका फाईल्सः द पल्स * कोरिया से द कीमची गर्ल्स

बाहरीन: आतंवादियों का आयात

बाहरीनी चिट्ठाकार ईमूड्ज़ हैरत जताते हैं कि कैसे एक कथित आतंकवादी का, सउदी अरब में आतंकवाद के पूर्व मामले दर्ज होने के बावजूद, बाहरीन में स्वागत किया गया।

कुवैतः तेल का पैसा गया कहाँ?

कुवैत से ज़ेड आश्चर्य प्रकट करते हैं कि तेल से बनाया पैसा अरब देश आख़िर कहाँ खरचते हैं, जबकि विश्व के 500 शीर्ष शिक्षा संस्थानों में केवल एक ही अरब विश्वविद्यालय शामिल है।

इराकः कार धमाके की गवाह

अपने परिवार के साथ मछली पकड़ने के ट्रिप पर निकलने के कुछ घंटों पहले ही इराकी चिट्ठाकार सनशाइन अपने पड़ोस में हुये कार बम के धमाके से दहल गईं। धमाके से उनके घर के शीशे चकनाचूर हो गये।

भारत : चेन्नई में तमिल ब्लॉग कैम्प

  20 अगस्त 2007

चेन्नई, भारत में 5 अगस्त 2007 को तमिल ब्लॉगर्स.ऑर्ग ने एक ब्लॉग-कैम्प आयोजित किया. ब्लॉग-कैम्प में आशा से दुगुनी संख्या में – तीन सौ से अधिक लोगों ने हिस्सा लिया. पिछले साढ़े चार वर्षों से तमिल चिट्ठे लोकप्रियता की नई सीढ़ियों पर निरंतर चढ़ते चले आ रहे हैं. आरंभ में...

तुर्की ने वर्डप्रेस डॉट कॉम पर रोक लगाई

  17 अगस्त 2007

लोकप्रिय व मुफ्त ब्लॉगिंग प्लेटफार्म वर्डप्रेस डॉट कॉम पर तुर्की में रोक लगा दी गई है और आगंतुकों को ये संदेश दिख रहा है, “निर्णय क्रः 2007/195 के तहत इस जालस्थल की पहुंच स्थगित कर दी गई है।, टीसी फतीह 2, दीवानी अदालत”। वर्डप्रेस के संस्थापक मैथ्यू मुलेनवेग ने कहा, “मुझे...

अर्जेंटीना: कारपूल की साईट

  17 अगस्त 2007

“ब्लॉग पासा एन ब्यूनस आयर्स” एक नये जालस्थल “कोम्पार्ते कोच” के बारे में लिखते हैं जो ब्यूनस आयर्स नगर में कारपूलिंग के लिये जोड़ीदार खोजने में यात्रियों की मदद करेगा। इससे यात्रा का खर्चा तो कम होगा ही पर्यावरण का भी भला होगा।

रूसः जातिवाद

मार्क मैकिनंन रूस में गैर रुसीयों के खिलाफ हिंसा और उग्र रजनैतिक विचारधाराओं को शह देकर पुतिन को “सबसे कम खराब” बतलाने की क्रेमलिन की रणनीति के बारे में लिखते हैं, “…जिन शैतानों की इन्होंने रचना की अब वो क्रेमलिन के भी काबू से बाहर हैं”।

पाईये दुनिया भर से रोचक कहानियाँ सीधे अपने इनबॉक्स में

* = required field
शुक्रिया! पर फ़िलहाल नहीं।