आभा मोंढे · अगस्त, 2014

मैं एक फ्रीलांसर पत्रकार (संपादक) के तौर पर जर्मनी की अंतरराष्ट्रीय प्रसारण सेवा के हिन्दी विभाग में काम करती हूं. कथक में गांधर्व महाविद्यालय से अलंकार हूं. कई साल नृत्य सिखाया है और यूरोप के कई देशों में कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए हैं. हिन्दी में लिखना पढ़ना मेरी रुचि है.

ईमेल पता आभा मोंढे

नवीनतम लेख आभा मोंढे से अगस्त, 2014

दक्षिण एशिया में अगले साल आ सकता है पहला डेंगू का टीका

  7 अगस्त 2014

दुनिया भर में 10 करोड़ से ज्यादा लोग हर साल डेंगू बुखार से संक्रमित होते हैं। क्या नया टीका इस वायरस के संक्रमण को रोक सकेगा?

भारतीय वैज्ञानिकों की तकनीक बचाएगी हाथियों के हमलों से

  4 अगस्त 2014

एक छोटी टीम हाथियों पर दिन के समय नजर रखताी है, और टेलिविजन चैनलों को जानकारी देती है। हाथियों के घूमने के क्षेत्र से दो किलो मीटर के दायरे वाले लोगाों को एक लिखित संदेश भेजा जाता है। एक छोटी टीम हाथियों पर दिन के समय नजर रखताी है, और टेलिविजन चैनलों को जानकारी देती है। हाथियों के घूमने के क्षेत्र से दो किलो मीटर के दायरे वाले लोगाों को एक लिखित संदेश भेजा जाता है।

पाईये दुनिया भर से रोचक कहानियाँ सीधे अपने इनबॉक्स में

* = required field
शुक्रिया! पर फ़िलहाल नहीं।