ऊपर लिखीं भाषाओं के नाम देख रहे हैं ? हम ग्लोबल वॉइसेस के आलेखों का अनुवाद कर विश्व की सिटिज़न मीडिआ को सब तक पहुंचाते हैं।

पाकिस्तान : जरदारी के फ्लर्ट पर चिट्ठाकारों का रिएक्शन

पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी हाल ही में न्यूयॉर्क में अमरीका की उप-राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार सारा पालिन से जब  मिले तो उन्होंने बातचीत के दौरान सारा से फ्लर्ट करने वाले शब्दों का खुलकर प्रयोग किया. ऐसा लगा कि राजनीतिक मुलाकात के बजाए कोर्टशिप चल रही है. जरदारी ने सारा पर निम्न टिप्पणी की थी:

“आप प्रत्यक्ष देखने में तो और भी खूबसूरत हैं . . .”

“अब मुझे समझ में आया कि सारा के पीछे सारा अमरीका  दीवाना क्यों है ”

जब एक फोटोग्राफर ने जरदारी से सारा से दोबारा हाथ मिलाने के लिए कहा, ताकि वो बढ़िया से फोटो ले सके, तो जरदारी ने कहा:

“यदि वो कहे तो मैं आपका आलिंगन भी ले लूं . .”

जाहिर है, पाकिस्तानी चिट्ठाकारों ने इसकी खूब आलोचना की. कुछेक ने इस पर जोक मारा तो कुछ गरियाए. आइए कुछ नजर मारते हैं:

द पाकिस्तानी स्पेक्टेटर पर अल्ताफ़ खान लिखते हैं:

अपनी दिवंगत पत्नी बेनजीर भुट्टों के प्रति गहरी संवेदना (मुर्दानी चेहरा बनाकर) दिखाने के तत्काल बाद आसिफ अली जरदारी अलास्का सुंदरी से मिले जो अमरीकी राष्ट्रपति के चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी की तरफ से उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार हैं. जरदारी ने सारा की ख़ूबसूरती की बारंबार प्रशंसा की. सेक्सी सुंदरी सारा इस प्रशंसा के मारे खुशी से ओतप्रोत थीं. वैसे भी सारा को डेमोक्रेटों ने बार्बी डॉल की संज्ञा दे रखी है. सारा-जरदारी कांड ने राजनीतिक आलोचकों को बखेड़ा खड़ा करने का एक और मुद्दा दे दिया है.  […]

चौरंगी पर शाकिर लखानी बताते हैं कि राष्ट्रपति का व्यवहार इस्लामी सिद्धांतों के खिलाफ है:

मुझे आश्चर्य है कि किसी इस्लामी गणतंत्र का राष्ट्रपति कैसे किसी ऐसी महिला को आलिंगन में लेने की सोच सकता है जिससे उसका निकट का रिश्ता नहीं है. . परंतु जरदारी साहब ने कहा कि वो सारा का आलिंगन कर सकते हैं यदि उन्हें ऐसा करने को कहा जाए (जबकि फोटोग्राफर ने उन्हें सारा के साथ सिर्फ हाथ मिलाने के लिए कहा था  ). […]

टीथ मास्ट्रो पर डॉ. अवाब अल्वी नोट करते हैं:

वैसे तो यह वही पूरी तरह से लिखी गई बातचीत प्रतीत होती है जैसा कि दुनियावी लोगों ने सारा पालिन और आसिफ जरदारी के मुलाकात से बहुत पहले भविष्यवाणी कर दी थी.  पाकिस्तान के कट्टरपंथी धर्मांधों को तो जरदारी के किसी महिला के साथ हाथ मिलाने में भी आपत्तियाँ होंगी. पर, भले ही हम इसे स्वीकारें या नहीं, फ्लर्ट करने वाली टिप्पणियाँ पश्चिमी सभ्यता और परंपरा का हिस्सा बन चुकी हैं परंतु मेरे विचार में यह सब कैमरे के सामने नहीं होना चाहिए. यह बहुत संभव है कि सारा ने इसे प्रशंसा के भाव से लिया हो, परंतु यदि आप वीडियो फुटेज देखेंगे तो पाएंगे कि वो थोड़ी असहज तो हो रही थीं.

अदनान सिद्दीकी ने जरदारी पर भड़ास निकाली:

हमें जरदारी को धन्यवाद देना चाहिए… उन्होंने अमरीका के सामने पाकिस्तान का और खास तौर पर पाकिस्तानी पुरुषों का  प्रतिनिधित्व किया. कल जब जरदारी सारा पालिन से मिले तो वे अपना आवेश खो बैठे और उन्होंने अपने सारे दांत (यह सुनिश्चित नहीं है कि वे असली हैं क्योंकि मैंने सुना है कि जब वे जेल में थे तो उनके सारे दांत तोड़ दिए गए थे) निपोर दिए इसके बाद उन्होंने सारा के सामने अपने प्यार का ऐसा भोंडा प्रदर्शन किया जैसा कि आम पाकिस्तानी आदमी करता. . […]

वहाँ मुलाकात के दौरान जरदारी ने बीबी के प्रति कोई शोक संवेदना नहीं जताई जैसा कि वो पाकिस्तान में प्रेस कॉन्फ्रेंसों में करते रहे हैं.

मैंने अपने स्वयं के चिट्ठे पर इस मुलाकात का  विवरण दिया है तथा राष्ट्रपति जरदारी के फ्लर्टिया जिंदगी के बारे एक मजाहिया वीडियो भी लगाया है. इस समाचार का वीडियो आप यहाँ देख सकते हैं. [उर्दू].

1 टिप्पणी

बातचीत में शामिल हों

लेखक, कृपया सत्रारंभ »

निर्देश

  • कृपया दूसरों का सम्मान करें. द्वेषपूर्ण, अश्लील व व्यक्तिगत आघात करने वाली टिप्पणियाँ स्वीकार्य नहीं हैं।.

पाईये दुनिया भर से रोचक कहानियाँ सीधे अपने इनबॉक्स में

* = required field
शुक्रिया! पर फ़िलहाल नहीं।